बवासीर में गर्म पानी पीने के फायदे और नुकसान

बवासीर की शुरुआत कब्ज से होती है। यह एक ऐसी बीमारी है जिसका इलाज सर्जरी से भी जीवन भर के लिए नहीं किया जा सकता है।

इसलिए इसकी पुनरावृत्ति की संभावना को कम करने या इसका इलाज करने के लिए, आपको रोकथाम के सुझावों का पालन करना चाहिए। अपनी जीवनशैली और खान-पान में बदलाव से मदद मिल सकती है।

लोग अक्सर पूछते हैं कि क्या बवासीर के दौरान गर्म पानी पीना चाहिए? हम सभी जानते हैं कि पानी मल को नरम करने और बवासीर के दर्द को कम करने में मदद करता है।

आइए आज जानते हैं कि बवासीर में गर्म पानी सामान्य पानी के बराबर फायदेमंद होता है या उससे ज्यादा।

बवासीर में गर्म पानी पीने के फायदे

बवासीर में गर्म पानी पीने से निम्न लाभ मिल सकते हैं:

मस्सों का सूजन और दर्द कम करता है

गुनगुना पानी रक्त परिसंचरण में सुधार करने में मदद कर सकता है जिसके परिणामस्वरूप नसों को आराम मिलता है। यह बवासीर की सूजन या दर्द को कम कर सकता है।

वजन कम करता है

गर्म पानी आपके मेटाबॉलिज्म को बढ़ा सकता है। इससे आपका वजन कम हो सकता है जो बवासीर होने का एक बड़ा कारण है।

एनल इन्फेक्शन से बचाव करता है

गर्म पानी आपके शरीर को डिटॉक्स करता है, खासकर आपके गुदा क्षेत्र को। यह बैक्टीरिया के संक्रमण को बवासीर से दूर रखता है। यह मस्सों के खुजली से भी निपट सकता है।

पाचन सुधारता है

गर्म पानी पीने से पाचन तंत्र ठीक रहता है। जैसे ही पानी आपके पेट और आंतों से होकर गुजरता है, वहां बचा हुआ कचरा बाहर निकल जाता है। जब आप बवासीर से निपट रहे हों तो यह वास्तव में प्रभावी हो सकता है।

खूनी नसों को रिलैक्स करता है

बवासीर में गर्म पानी से सिट्ज़ बाथ लेना खूनी और सूजी हुई नसों को शांत करता है। सिट्ज़ बाथ के बाद शायद आपको लगे कि आपके गुदा से कितना बड़ा बोझ उतर गया है।

बवासीर में गर्म पानी पीने के नुकसान

आमतौर पर बवासीर में गर्म पानी पीने से कोई हानिकारक प्रभाव नहीं पड़ता है, लेकिन बहुत अधिक गर्म पानी पीने से निम्न नुकसान हो सकते हैं:

  • आपकी जीभ या गला जल सकता है।
  • अधिक गर्म पानी पीने से आपके अन्नप्रणाली (esophagus) में ऊतक को नुकसान हो सकता है।
  • स्वाद कलियां (taste buds) जल सकती हैं।
  • आपको गुनगुने पानी के साथ ठंडा पानी भी पीना चाहिए क्योंकि यह पुनर्जलीकरण के लिए सबसे अच्छा होता है।

बवासीर में गर्म पानी का उपयोग कैसे करें?

बवासीर का इलाज के लिए आप निम्न तरीकों से गर्म पानी का उपयोग कर सकते हैं:

गर्म पानी का सिट्ज़ बाथ लें

  • सुनिश्चित करें कि आपका बाथटब साफ है। एक साफ बाथटब में 3 से 4 इंच गर्म पानी भरें।
  • अगर आपका डॉक्टर कहे तो पानी में नमक या कोई विशेष दवा मिला सकते हैं।
  • पानी गुनगुना रखें। आधा कप एप्पल साइडर विनेगर मिलाएं।
  • लगभग 10-15 मिनट तक अपने गुदा को बाथ टब के टल पर रखें।

गर्म पानी का सिट्ज़ बाथ गुदा और जननांग क्षेत्रों में दर्द, खुजली और अन्य लक्षणों को शांत करने में मदद कर सकता है।

गर्म पानी और नींबू

  • नींबू के रस को बवासीर के मस्सों पर लगाना या इसे गर्म पानी में मिलाकर पीना, दोनों फायदेमंद हो सकता है।
  • गर्म पानी में नींबू का रस, अदरक का रस और एक चम्मच शहद मिलकार उपयोग में ला सकते हैं।
  • गुनगुने पानी में एक चम्मच हल्दी घोलकर पी लें।

गर्म पानी और ब्लैक टी बैग

ब्लैक टी में टैनिक एसिड होता है, जिसमें एस्ट्रिंजेंट गुण होते हैं। गर्म पानी में ब्लैक टी बैग डुबोकर कुछ समय के लिए बवासीर के मस्सों पर रखें।

यह उपाय बाहरी बवासीर के सूजन और रक्तस्त्राव को रोक सकता है।

क्या गर्म पानी से बवासीर का इलाज किया जा सकता है?

गर्म पानी का उपयोग बवासीर के लक्षणों को कम कर सकता है। यह मस्सों का सूजन, दर्द और रक्तस्त्राव दूर करता है।

हालांकि, यह पूर्ण रूप से बवासीर का इलाज नहीं कर सकता है। इसलिए बवासीर के ग्रेड के अनुसार इसके इलाज का विकल्प चुनना चाहिए।

उच्च ग्रेड का बवासीर ठीक करने के लिए निम्न सुरक्षित तरीके मौजूद हैं:

  • डॉक्टर द्वारा दी गई एंटीसेप्टिक क्रीम, टेबलेट या लोशन।
  • लेजर हेमोराहाइडेक्टोमी
  • स्टेपलर हेमोराहाइडेक्टोमी
  • रबर बैंड लिगेशन (नॉन-सर्जिकल प्रक्रिया)
  • स्क्लेरोथेरेपी (नॉन-सर्जिकल प्रक्रिया)

निष्कर्ष

गर्म पानी पीने से बवासीर का इलाज नहीं होता हैं, लेकिन यह कई फायदे प्रदान करता है। अगर पानी का तापमान बहुत अधिक नहीं है तो यह पिया जा सकता है और सुरक्षित है।

आपकी उंगलियों को सामान्य लगने वाला पानी जीभ और गले के लिए बहुत गर्म हो सकता है। इसलिए पहले जीभ से उसका तापमान पता करें।

यदि आपकी दवा चल रही है या कोई बड़ा रोग है तो उपर्युक्त उपायों को डॉक्टर से पूछे बिना न आजमाएं।

Scroll to Top